कोरोना काल ने हमारे जंग लगे सिस्टम की पोल खोल दी

#थाली और #ताली बजाने वाले हमारे #देश की सच्चाई ये है कि मध्यप्रदेश में प्रशासन ने बिना पूर्व सूचना के एक निजी अस्पताल में कोरोना के दो पॉजिटिव मरीजों को भेज दिया। जब हालत बिगड़ी तो टेस्ट कराने को वहां से दूसरी जगह ले गए पर बिना किसी सुरक्षा किट के एक और आदमी मरीज के साथ बिठा दिया। इधर उस अस्पताल के डॉक्टर्स और अन्य स्टाफ में भय व्याप्त है, जहां #कोरोना का वो संदिग्ध मरीज भेजा गया था। वे अब ड्यूटी पे नहीं आ रहे।



ये है इस देश की कोरोना से लड़ने की हकीकत। #lockdown में जनता मर रही है, सड़क पर पुलिस उनको पीट रही है और खुद प्रशासन #कोरोना फैलाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहा। आप देख लीजिएगा कि इस देश में कोरोना का जाल बुनने में सबसे आगे सरकारी अफसर और ब्यूरोक्रेट्स रहेंगे। 70 सालों में हमने जो सड़ा सिस्टम बनाया है, वह #corona संकट में #collapse कर जाएगा। अभी तक तो राज्य सरकारों में ही आपस में सामंजस्य नहीं है। केंद्र की तरफ से भी बड़ा भाई बनकर इसे शुरू करने की कोई पहल मुझे अभी तक नहीं दिखती। एक संविधान, एक विधान की रट लगाने वाले कोरोना संकट में देश के लिए एक केंद्रीय रेगुलेटिंग एजेंसी तक नहीं बना पाए अभी तक। पीएम टीभी और रेडियो पर बोलकर चुप हो जाते हैं। सीएम लोग अपनी चला रहे हैं। ब्यूरोक्रेट्स नौकरीं बचा रहे हैं और जनता पस्त है। इस देश से हम सबको प्यार है, इसलिए बोलता हूँ। वरना मैं भी आंख बंद करके और कान में रूई लगाकर चुप बैठ सकता हूँ। बहुत लोग ऐसे हैं जो हर चीज़ में गुना भाग करते हैं। अरे जब ज़िंदा हो तो बोलो। मरने के बाद वैसे भी नहीं बोल पाओगे। इंसान हो तो बोलो। गलत को गलत कहने का हुनर अगर नहीं आया तो तुम निर्भया के दोषियों के परिवार वालों की ही तरह हो, जो अपने-अपने बेटों को आखिर तक बेकसूर ठहरा रहे थे। मदर इंडिया बनने का दम है तो मार के दिखाओ अपने बेटे को गोली!! हो पायेगा? अगर नहीं तो तुम एक बौने इंसान हो। जब तुम्हारी अन्तरात्मा ही तुमसे दुखी है तो तुम मोक्ष क्या पाओगे और पाप पुण्य का हिसाब क्या दोगे? भगवान विष्णु की पूजा होती है पर उनके अवतार भगवान राम की पूजा और वंदना दोनों होती है। जानते हैं क्यों? क्योंकि पिता का वचन निभाने के लिए राजपाट छोड़कर 14 साल जंगल में रहे। हर तरह का दुख सहा। और आपसे एक सच नहीं बोला जाता। बहुत शर्म की बात है।


Post a Comment

0 Comments