एप्पल, शाओमी और सैमसंग में अभी कौन है बेहतर फ़ीचर वाला बजट फ़ोन

या फिर सबसे अच्छा ये है कि फोल्डेबल फ़ोन ही ख़रीद लें !


Nadim S. Akhter  16 November 2019


हमने करीब नौ महीने तक अपना पुराना मोबाइल यूज किया और उसकी आज की कीमत से महज़ तीन हज़ार कम में वापिस #flipkart को बेच दिया। बदले में हमने जो नया फोन लिया, उसपे 10 फीसद कैशबैक मिला और फिर जो फोन की कीमत आयी उसे दो साल की ईएमआई में बांट दिया। 300 रुपये से भी कम की महीने की किश्त। हमने #शाओमी का एक और #Note7Proखरीदा। 


#Samsung का इसी महीने लॉन्च हुआ M30S भी ठीक था, 6000 MAH की बैटरी के साथ पर देखने में ये फोन प्लास्टिक का डिब्बा लगता है। ये कोरियाई बनिये सुधरेंगे नहीं। खूब लूटा इन्होंने #सैमसंग के नाम पर भारत की जनता को। पर अब इनका डिब्बा गोल हो चुका है। बाकी #Oppo से लेकर #Vivo और #Oneplus तक कोई मुझे नहीं जंचता। 



शाओमी ने #Note5pro के बाद नोट7प्रो ही अच्छा फोन निकाला। बाकी 6pro और इनके दूसरे फोन भी कुछ ना कुछ कमी लेकर आते हैं। #Android में अभी मुझे #MI का फोन ही ठीक लगता है। 

और अगर कुछ बढ़िया खरीदना चाहते हैं तो सीधे #Apple का फोन खरीदिए। अभी #iphone6 आपको 22-23 हज़ार तक में मिल जाएगा जो एक कम्प्लीट फोन है। और अगर बजट 30 हज़ार तक है तो iphone7 तक जा सकते हैं पर दोनों में कोई खास अंतर नहीं। लेकिन अगर पैसा फालतू है और लुटाने के शौकीन हैं, शोशेबाजी का शौक है तो सीधे #iphone11 खरीदिए। इसमें तीन रियर यानी बैक कैमरे हैं, अच्छे फीचर्स हैं, प्रोसेसर से लेकर सबकुछ चकाचक है पर इसका करेंगे क्या? बात ही तो करनी है और कुछ फोटो खींचने हैं। तो इतने महंगे फ़ोन की ज़रूरत नहीं। 


बाकी samsung देश में पहला foldable smartphone लॉन्च करने जा रहा है जिसमें स्क्रीन मुड़ जाएगी। पर ##Xiaomi तो samsung का भी बाप है सो वह एक ऐसा स्मार्टफोन लेकर आ रहा है, जिसमें पूरे फोन पर स्क्रीन होगी यानी फोन के आगे-पीछे औऱ किनारों पर स्क्रीन ही स्क्रीन। बस बीच में एक पतली लम्बी पट्टी होगी, जहां बटन्स और कैमरे होंगे। ये तो मुझे अब तक का सबसे क्रांतिकारी फोन लगा है। 


भविष्य में ये स्क्रीन का झंझट ही खत्म हो जाएगा और आपका स्मार्टफोन एक छोटे डिब्बे के आकार का होगा, जिससे आप कभी भी किसी भी सतह पर स्क्रीन उभार देंगे। यहां तक कि अपनी चमड़ी पर फोन का स्क्रीन उभरकर नम्बर डायल कर लेंगे। उसके बाद की दुनिया तो और भी ग़ज़ब है। उस पे फिर कभी। फिलहाल तो हमने #Flipkart की #sale का पूरा फायदा उठाया है। #Amazon अब मुझे चोर कम्पनी लगने लगी है। एक भी #ऑफर उसमें मुझे ढंग का नहीं दिखा। तिस पर उसका user interface इतना सादा और घटिया है कि लगता है जैसे बाबा आदम के ज़माने की एप्प और वेबसाइट खोले बैठे हों। #Myntra और #Snapdeal भी चोरी ही करते रहे और ईमानदारी से #offers लेकर नहीं आए। मुझे तो सिर्फ #फ्लिपकार्ट भाया और हमने वहीं सारी शॉपिंग की।



Post a Comment

0 Comments